तेरी सोच


wait

wait

जबसे तुमसे है, दिल की लगी,

तुम बन गये, मेरी जिंदगी

हर दिन मेरा, तुमसे शुरू

हर पल मैं तुमको, सोचा करूँ

 

तुम्ही हो सूरज, तुम रोशनी,

तुमसे ही धूप, तुम ही नमी

तुम चाँद हो, तुम चाँदनी

तुम्ही चकोर, तुम राग्नी

बादलों ने ये रूप, तुमसे धरा

वाधीओ मे ये रंग, तुमसे भरा

बारीशों मे बूँदो का, तुम एहसास हो

फूलों मे ख़ूसबू की, तुम मिठास हो

तुम्ही ही पर्वत, तुम्ही हो दरिया

तुम्ही हो हासिल, तुम्ही हो ज़रिया

तन्हायओं मे सुने जो, तुम हो आवाज़

हवाओं मे गूँजे जो, तुम हो साज़

हर शय मे हो शामिल तुम,

हर शॅक्स है तेरे रूबरू

सुबह से लेकर शाम तक

शुरू से लेकर अंज़ाम तक

तेरे बारे मे, मैं सोचा करूँ

%d bloggers like this: